• Visitors:
  • Shipping Corporation of India
  • |
  • 22 Feb  Shipping Corporation of India
Shipping Corporation of India

भावी योजना

एससीआई उच्च स्पर्धात्मक अंतराष्ट्रीय क्षेत्र में जहाज परिचालित करती है और विविध तणाओं के बावजूद,समय-समय पर उसने रणनीति के उपाय स्वीकार करने की शर्यत में आगे रहा.वह अपने उदारीकरण के क्षेत्र में समायोजन करने में सफल रहा,कई भारतीय उद्योगों के लिए अंतरर्राष्ट्रीय स्पर्धा की घोषणा कर चुका है| 
 
राष्ट्र की ध्वज वाहक कंपनी बनी रहने के लिए एससीआई की कोशिश रही है,और उसने अपने नौबेड़े का विस्तार,आधुनिकीकरण और उसमें विविधता लाने की योजना बनाना प्रारंभ किया,ताकि भारतीय व्यापार और उद्योग को कुशल और स्पर्धात्मक शिपिंग सेवा बहाल की जा सके|
 
संयुक्त उद्यम कंपनियों का गठन और उससे जुड़े अन्य कारोबार में वृद्धि की रणनीती अपनानी कोशिश एससीआई ने निरंतर रखी है,जिससे मेरीटाइम विश्व में वो अपना स्थान सदा कायम रखेगा|
 
नौवहन क्षेत्रों से जुड़ी गतिविधियों के क्षेत्रों में विविधता लाने की प्रक्रिया उसने कायम रखी है. कुछ क्षेत्र विस्तार/विविधता के लिए पहचाने जाएगें, जिसमें शामिल हैं : तटीय और फीडर सेवाएं, कुल लॉजिस्टिक, कंटेनर फ्रेट स्टेशन (सीएफएस), टर्मिनल डेवलपमेंट/मैनेजमेंट शिपबिल्डिंग, ड्रेजिंग, आदि|