• Visitors:
  • Shipping Corporation of India
  • |
  • 22 Feb  Shipping Corporation of India
Shipping Corporation of India

सतर्कता के बारे में

भारतीय नौवहन निगम में सतर्कता का कार्य प्रबंधन का अविभाज्य अंग है.  एससीआई का सतर्कता विभाग एक अभिन्न भाग है, जो एससीआई के सभी सतर्कता मामलों को निपटाता है.  ऐसा विश्वास है कि सर्वोत्तम कार्यप्रणाली, समुचित नियंत्रण और पारदर्शिता के कारण लिए जाने वाले निर्णय व्यवसायिक रुप से दक्ष, असरदार और कंपनी की उत्कृष्टता के लिए सातत्यपूर्ण नेतृत्व करने वाले होते हैं|
 
प्रभाग का नेतृत्व मुख्य सतर्कता अधिकारी (सीवीओ) करते हैं.  सतर्कता अधिकारी उन्हें मदद करते हैं, और इन अधिकारियों को एससीआई के विविध विभागों का अनुभव होता है.  एससीआई के मुख्यालय के अतिरिक्त सतर्कता विभाग, क्षेत्रीय कार्यालय कोलकाता और चेन्नई में भी हैं, जो सीवीओ को रिपोर्ट करते हैं.  सतर्कता विभाग एससीआई के सभी प्रभागों के कर्मचारियों के हित के लिए सतर्कता विचार-गोष्ठी (सेमिनार) / प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करता है|
 
सीवीओ, कंपनी के कामकाज में गुणात्मक सुधार लाने के लिए जाँच-पड़ताल के आधार पर प्रबंधन को सलाह देते हैं.  सतर्कता संबंधी सभी मामलों में मुख्य प्रशासक के विशेष सलाहकार के रुप में सीवीओ कार्य करते हैं.  सतर्कता मामलों में निगम और एजन्सीज़ जैसे, एमओएसआरटीऐंडएच, पीएमओ, सीबीआई, सीवीसी, आदि, में सीवीओ एक कड़ी का कार्य भी करते हैं और कंपनी में सुधार लाने तथा उसे कार्यान्वित करने का सुझाव देने में सहयोग करते हैं|
 
प्रभाग का मुख्य कार्य - एमओएसआरटीऐंडएच, सीवीसी, पीएमओ, एससीआई प्रबंधन द्वारा प्राप्त शिकायतों की वैयक्तिक और अन्य स्रोतों द्वारा जाँच-पड़ताल, सतर्कता निवारक कार्य जैसे, आकस्मिक निरीक्षण, प्रापण और ठेका फाइल्स का नियमित सर्वेक्षण/छानबीन करना तथा सीटीई की गहन परीक्षा रिपोर्ट, कर्मचारियों के प्रॉपर्टी रिटर्न फॉर्म की छानबीन तथा केन्द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी), मुख्य तकनीकी परीक्षक (सीटीई), केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई), पोत परिवहन, सड़क परिवहन तथा राजमार्ग (एमओएसआरटीऐंडएचएच) मंत्रालय, आदि से समन्वय रखना|
 
आईएसओ 9001:2008:
 
शिकायत निस्तारण तंत्र की सुव्यवस्थित और सुदृढ़ प्रक्रिया विकसित कर एससीआई का सतर्कता विभाग शायद देश में मौजूद सरकारी क्षेत्र के उपक्रमों के प्रथम चुनिंदा सतर्कता विभागों में से एक है जिसने एक प्रक्रिया के तहत आईएसओ 9001:2008 का विशिष्ट प्रमाणपत्र हासिल कर लिया है.  प्रोसेस V-1 और V-2 के लिए आईएसओ ऑडिट की जा चुकी है और एससीआई के सतर्कता विभाग को अलग से एक प्रमाणपत्र जारी किया जा चुका है तथा यह प्रमाणपत्र 7 मई 2012 से 6 मई 2016 तक वैध है.
ISO 9001:2008 Certificate of SCI Vigilance division.